Computer full form और computer क्या है ?

COMPUTER FULL FORM और COMPUTER क्या है ?
Spread the love

दोस्तों क्या आप को कंप्यूटर के बारे में कुछ भी जानकारी नही है , पर आप कंप्यूटर के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते है ।

तो आप बिलकुल सही जगह आये है  यहाँ पर आप को कंप्यूटर की संपूर्ण जानकारी मिलेगी  , दोस्तों आप सब तो जानते ही है कि अगर हमे टेक्नोलॉजी के साथ-साथ चलना है तो हमे कंप्यूटर के बारे में सब कुछ जानना जरूरी है ।

और हा अगर आप को कंप्यूटर के बारे में जानकारी नही है तो आप टेक्नोलॉजी को नही समझ सकते “

और आज के टाइम में कंप्यूटर के बारे में हर एक जानकारी रखना हमारे लिए बहुत ही आवश्यक है ।

क्यो आने वाले कुछ ही सालो में या कहे कुछ ही दिनों में 

Technology बहुत ही आगे बढ़ने वाला है ।।

कंप्यूटर का विकास बहुत जल्द हुआ है  Example के तौर पर देखे तो पहले के  कंप्यूटर आकर में बहुत बड़े हुआ करते थे , और उन कंप्यूटरवो में ज्यादा  functions भी नही थे । तो चलिए बिना समय गवाए 

आगे  बढ़ते है ।

 

कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या है Hindi aur English me 

अगर कंप्यूटर की फुल फॉर्म की बात की जाय तो कंप्यूटर की  कोई भी full form नहीं है. लेकिन काफी लोगो का मानना है कि Computer का full form होता है. ‘Common Operating Machine Purposely Used for Technological and Educational Research’. 

ENGLISH HINDI
C = Common C = आम तौर पर
O = Operating O = संचालित
M = Machine M = मशीन
P = Purposely P = विशेष रूप से
U = Used for U = प्रयुक्त
T = Technological T = तकनीकी
E = Educational E = शिक्षात्मक
R = Research R = अनुसंधान

 

Definition of Computer [ कंप्यूटर की परिभाषा ]

Computer एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो हमारे द्वारा दिये गए input data को output के रूप में प्रदान करता है ।

 

History of Computer [ कंप्यूटर का इतिहास ]

 

Apacus को पहला कंप्यूटर कहा जाता है, बाद में पास्कल ,लॉरेंस, सेफ बरी, आदि ने कई devices बनाई ,पर किसी डिवाइस में memory नही थी जो कंप्यूटर की सबसे बड़ी विशेषता है ।

उसके बाद 17 वी शताब्दी में  (चार्ल्स बैबेज ) 

ने एक कंप्यूटर का आविष्कार किया जिसका नाम रखा 

Analytical Engine रखा।

इस कंप्यूटर की सबसे बड़ी विशेषता  मैमोरी थी ।

इसी लिए  Charles Babbage को कंप्यूटर का जनक भी कहा जाता है //

कंप्यूटर के प्रकार : –

मानक के आधार पर कंप्यूटर 3 प्रकार के होते है 

जो निम्न है “।

1.Analog Computer 

 

analog computer में Data transmission एक  सीधी रेखा में होता है , analog computer द्वारा भौतिक  मात्राओ को मापा जाता है इसके द्वारा तापमान, गति, लंबाई , चौड़ाई  आदि . Analog computer का  का मुख्य प्रयोग विज्ञान एवं इंजीनियरिंग में किया जाता है ।

2.Digital Computer 

यह आधुनिक तकनीक के कंप्यूटर होते है जो डिजिटल तकनीक का अनुसरण करते है , इस प्रकार के कंप्यूटर में micro prosesar

का प्रयोग किया जाता है ,

जो कि 1 सेकंड में करोड़ों  निर्देशो को  का पालन कर सकता है  यह Bainary के रूप में कार्य करता है

अगर (0) हो तो Falas और (1) हो तो True सिग्नल 

देता है ।।

 

Digital Computer को  साइज के आधार पर 4 भागों में बाँटा गया है

Micro Computer 

Mini Computer 

Mainframe Computer

Super Computer 

 

3.Hybrid Computer :  

इस प्रकार के कंप्यूटर में संग्लन  और डिजिटल दोनों ही  प्रकार की विशेषताएँ  होती है ।

हायब्रिड कंप्यूटर का सबसे ज्यादा उपयोग चिकित्सा के क्षेत्र में होता है  हायब्रिड कंप्यूटर से एक ही  कंप्यूटर  में एनालॉग व डिजिटल दोनी की ही सुविधाएँ  मिल जाती है ।।

Part of Computer { कंप्यूटर के प्रकार }_

कंप्यूटर कई  पार्ट से मिल कर बना है जिनमे से कुछ पार्ट  मुख्य है ।

  • C.P.U           ● Monitor 
  • Keyboard    ● Mouse

 

1.C.P.U 

CPU का पूरा नाम  Central processing Unit होता है ।

C.P.U का काम कंप्यूटर में किसी भी कार्य को करना होता है   , C.P.U को कंप्यूटर का  brain(मस्तिष्क) भी कहा जाता है ।।

C.P.U को तीन इकाई यों में बाटा गया है –

C.U  _ Control Unit 

M.U – Memory Unit 

A.L.U- Arithmetic logic unit 

2.Monitor 

 

 यह कंप्यूटर का  एक महत्त्वपूर्ण आउटपुट डिवाइस होता है  यह कंप्यूटर और  यूज़र के बीच संबंध स्थापित करता है। इसका उपयोग कम्प्यूटर संबंधित सूचनायें दिखाने के लिए किया जाता है ,

इसे V.D.U ( Visual display unit ) भी कहा जाता है   monitor दो प्रकार के होते है 

C.R.T ~ Cathode Ray tube { picture tube}

T.F.T ~ Thin – film- transistor

C.R.Tयह मॉनिटर t.v के सिद्धांत पर कार्य करता है इसमें एक कैथोड Ray-tube लगा होता है ।

T.F.T = यह एक सीधा स्क्रीन होता है जो ( CRT ) की अपेक्षा हल्का तथा पतला होता है , तथा यह कम जगह लेता है 

यह ( C.R.T ) मॉनिटर की अपेक्षा  महँगा होता है ।

 

3.Keyboard

 

की-बोर्ड किसी भी कंप्यूटर का एक इनपुट डिवाइस होता है ।

जिसका उपयोग कंप्यूटर में कोई भी data अथवा निर्देश पहुँचाने के लिए किया जाता है ।

Keyboard में लगभग  103, 104, या 106 बटन  तक होते है यह हमारे कंप्यूटर का बहुत ही महत्वपूर्ण पार्ट होता है ।।

 

4.Mouse 

माउस कंप्यूटर का एक input part होता है , जिसका काम कंप्यूटर में रखे प्रोग्राम को open करने के लिए अथवा बन्द करने के लिए  या किसी प्रोग्राम को Delete करने के लिए प्रयोग किया जाता है।।

माउस में 3 बटन होते है =

  • Primary ( Left Button)
  • Secondary (Right Button)
  • Scroll ( Middle Button )

 

यह भी पढ़े:-

♦ NDA क्या है पूरी जानकारी हिंदी में ।

♦ D pharma course क्या है और इसे कैसे करे ।

♦ BCA क्या है और इसे कैसे करे।

♦ITI COPA COURSE क्या है? ITI COPA FULL FORM

 

How does the computer work [ कंप्यूटर काम कैसे करता है ]

 

कंप्यूटर कैसे काम करता है यह चीज़ हम देख कर नही बल्कि समझ कर जान सकते है कि कंप्यूटर काम कैसे करता है।

जब हम की-बोर्ड व माउस की मदद दे computer को कोई दिशा – निर्देश देते है तब वह निर्देश  CPU तक जाता है और CPU हमारे द्वारा दिये गये instruction

का पालन करता है और हमे आउट पुट प्रदान करता है ।।

 

What is Hardware [ हार्ड वेयर क्या है ]

 

Computer के वय पार्ट जिन्हें हम touch कर सकते है  हार्ड वेयर कहलाते है ।

Example के तौर लर देखे तो  Mouse, Cpu, keyboard, monitor , motherboard etc.

 

What is software [ सॉफ्टवेयर क्या है ]

 

Computer के  वह पार्ट जिन्हें हम touch नही कर सकते , सिर्फ  महसूस (feel) कर सकते है  

सॉफ्टवेयर कहलाते है ।।

Ex. Windows, notepad , m.s office , m.s dos आदि पार्ट्स कंप्यूटर सॉफ्टवेयर के अंतर्गत आते है.

सॉफ्टवेयर 3 प्रकार के होते है –

  • सिस्टम सॉफ्टवेयर ( System software )
  • अनु प्रयोग सॉफ्टवेयर (Application software)
  • प्रोग्रामिंग सॉफ्टवेयर ( Utility software )

 

 Generation of Computer ( कंप्यूटर की पीढ़ियाँ) 

 

वैज्ञानिको की माने तो  कंप्यूटर की  5 पीढ़ियाँ मानी गयी है , जो निम्न प्रकार है।।

  • First Generation (1945-1954 )
  • Second Generation ( 1955-1964)
  • Third Generation ( 1965-1974)
  • Fourth Generation ( 1975-1984)
  • Fifth Generation (1984 से लेकर अब तक )

 

दोस्तों ये तो हो गया Computer की जानकारी  अब बात कर लेते है , कंप्यूटर के basic course जिससे हम कंप्यूटर के basic knowladge या कहे कि basic से थोड़ा ऊपर तो ओ कौन-कौन से कोर्स है जिन्हें हमे करना चाहिए–

  • CCC – course on computer concepts (3 month)
  • ADCA – Advanced Diploma in Computer application ( 1 year ) 
  • DCA – Diploma in Computer application ( 1 year ) 
  • Tally – Transaction Allowed in a Linear Line Yards ( 1 month , 2 month , ya 3 month)

 

मेरा नाम अवनीश चतुर्वेदी है और इस blog पर हर रोज नई पोस्ट अपडेट करता हूँ आप को हमारे द्वारा लिखी गयी पोस्ट पसंद आये तो शेयर जरूर कर दीजिए गा ।।


Spread the love

Techie pandit

4 thoughts on “Computer full form और computer क्या है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *